US Presidential Debate 2020: प्रेसिडेंशियल डिबेट में रोकटोक नहीं कर सकेंगे डोनाल्‍ड ट्रंप और जो बाइडेन, म्यूट बटन को मंजूरी

Spread the love


वॉशिंगटन
अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवारों के बीच अंतिम बहस से पहले बहस संचालित करने वाले आयोग ने नए नियमों की घोषणा की है। इनके तहत प्रतिद्वंद्वी वक्ताओं के माइक्रोफोन स्पीकर दो मिनट के लिए बंद कर दिए जाएंगे ताकि अपना पक्ष रखने जा रहा उम्मीदवार अपनी बात की शुरुआत निर्बाध तरीके से कर सके।

रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (74) और डेमोक्रेटिक पार्टी के उनके प्रतिद्वंद्वी जो बाइडेन (77) के बीच अंतिम बहस 22 अक्टूबर को टेनेसी के नैशविले में बेलमोंट विश्वविद्यालय में होने वाली है। नए नियमों के मुताबिक ट्रंप और बाइडेन दोनों को ही बहस के 15 मिनट वाले प्रत्येक खंड के दौरान शुरुआती दो मिनट निर्बाध रूप से बोलने के लिए दिए जाएंगे।

जो बाइडेन ने कोरोना वायरस, इनकम टैक्‍स, अश्‍वेतों को लेकर घेरा, डोनाल्‍ड ट्रंप ने दी सफाई

आयोग ने सोमवार को जारी एक वक्तव्य में कहा, ‘जो उम्मीदवार बोलने जा रहा होगा, इस दो मिनट में केवल उसी का माइक्रोफोन चालू रखा जाएगा।’ इसमें कहा गया, ‘प्रत्येक खंड, जिसका उद्देश्य उम्मीदवारों के बीच खुली चर्चा है उसमें संतुलन कायम करने के लिए बाद में उम्मीदवारों के माइक्रोफोन चालू रखे जाएंगे।’ आयोग की ओर से कहा गया कि दोनों पक्षों के अभियान ने दो मिनट के निर्बाध नियम पर सहमति जताई है।

ओहियो के क्लेवलैंड में केस वेस्टर्न रिजर्व यूनिवर्सिटी और क्लेवलैंड क्लिनिक में पहली डिबेट का आयोजन किया गया था। बहस के दौरान डोनाल्‍ड ट्रंप और बाइडन आपस में कोरोना वायरस को लेकर भिड़ गए थे। ट्रंप ने कहा कि आप नहीं जानते हैं कि भारत, चीन और रूस में कितने लोग मारे गए हैं। भारत, चीन और रूस ने मृतकों की सही संख्‍या नहीं दी है। जो बाइडन और डोनाल्‍ट ट्रंप के बीच डिबेट शुरू होने पर एक दोनों ने कोरोना को देखते हुए एक-दूसरे हाथ नहीं मिलाया था।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *