Uttarakhand News: नहीं सुधरे विधायक प्रणव सिंह चैंपियन, माफी मांगने के 3 दिन बाद ही उड़ाई नियमों की धज्जियां

Spread the love


हाइलाइट्स:

  • बीजेपी विधायक प्रणव सिंह चैंपियन फिर विवादों में घिरते नजर आ रहे हैं
  • नियम-कानून को ताक पर रखकर चैंपियन ने किया शक्ति प्रदर्शन
  • गाड़ियों के काफिले के साथ निकले चैंपियन, समर्थकों ने लहराए हथियार

पुलकित शुक्ला, हरिद्वार
उत्तराखंड के हरिद्वार जिले की खानपुर विधानसभा से बीजेपी विधायक प्रणव सिंह चैंपियन एक बार फिर विवादों में घिरते नजर आ रहे हैं। तीन दिन पहले ही उनका पार्टी से निष्कासन वापस लिया गया है। अनुशासनहीनता के आरोप में 13 महीने तक पार्टी से निलंबित रहने के बाद विधायक ने माफी मांगी थी, जिसके बाद उन्हें फिर से पार्टी में शामिल किया गया था। हालांकि, ऐसा लगता नहीं है कि चैंपियन ने इससे सबक लिया है।

बीजेपी में दोबारा शामिल होने के बाद चैंपियन ने अपने विधानसभा क्षेत्र में बुधवार को फिर से नियम-कानून को ताक पर रखकर शक्ति प्रदर्शन किया है। चैंपियन ने दर्जनों हूटर लगी गाड़ियों के काफिले के साथ शक्ति प्रदर्शन किया। इस दौरान विधायक के समर्थक गाड़ियों से बाहर हथियार निकाल कर बैठे नजर आए और गाड़ियों के हूटर के साथ तेज आवाज और म्यूजिक के साथ पूरे क्षेत्र में हंगामा मचा दिया।

बता दें कि 13 महीने पहले भारतीय जनता पार्टी ने चैंपियन को अनुशासनहीनता के चलते 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया था लेकिन आचरण में सुधार लाने और माफी मांगने के बाद 3 दिन पहले ही बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष की मौजूदगी में चैंपियन को फिर से पार्टी में शामिल किया गया। पार्टी में शामिल होते ही चैंपियन ने फिर ये दिखा दिया वे अनुशासन का दावा करने वाली बीजेपी की नीतियों पर नहीं बल्कि अपने ही अंदाज में राजनीति करेंगे। चैंपियन के इस नए कारनामे की चारों तरफ चर्चा हो रही है।

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष को सौंपा कार्यक्रम
बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत का कहना है कि उन्होंने चैंपियन से इस मामले में बात की है। चैंपियन ने उन्हें अपने 2 दिन के कार्यक्रमों की सूची सौंप दी है। चैंपियन का ये भी कहना है कि उन्होंने कोई भी रैली नहीं निकाली। प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कहा कि उन्होंने चैंपियन समझाने के लिए बुलाया है।



Source link

Previous Article
Next Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *